Om Jai Jagdish Hare Aarti PDF

Download Om Jai Jagdish Hare Aarti PDF

You can download the Om Jai Jagdish Hare Aarti PDF for free using the direct download link given at the bottom of this article.

File nameOm Jai Jagdish Hare Aarti PDF
No. of Pages3
File size558 KB
Date AddedJul 16, 2022
CategoryReligion
LanguageHindi
Source/CreditsDrive Files

Om Jai Jagdish Hare Aarti Summary

Om Jai Jagdish Hare is a Hindu religious song wriiten by Pandit Sharadha Ram Phillauri. It is dedicated to supreme lord Vishnu and is mostly sung in Vishnu temples. Although the religious hymn is a Hindi language composition, it is widely sung by Sanatanis. The prayer is sung by the entire congregation at the time of Aarti.

Om Jai Jagdish Hare Aarti Lyrics in Hindi

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी ! जय जगदीश हरे।

भक्त जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥

ॐ जय जगदीश हरे।

जो ध्यावे फल पावे, दुःख विनसे मन का।

स्वामी दुःख विनसे मन का।

सुख सम्पत्ति घर आवे, कष्ट मिटे तन का॥

ॐ जय जगदीश हरे।

मात-पिता तुम मेरे, शरण गहूँ मैं किसकी।

स्वामी शरण गहूँ मैं किसकी।

तुम बिन और न दूजा, आस करूँ जिसकी॥

ॐ जय जगदीश हरे।

तुम पूरण परमात्मा, तुम अन्तर्यामी।

स्वामी तुम अन्तर्यामी।

पारब्रह्म परमेश्वर, तुम सबके स्वामी॥

ॐ जय जगदीश हरे।

तुम करुणा के सागर, तुम पालन-कर्ता।

स्वामी तुम पालन-कर्ता।

मैं मूरख खल कामी, कृपा करो भर्ता॥

ॐ जय जगदीश हरे।

तुम हो एक अगोचर, सबके प्राणपति।

स्वामी सबके प्राणपति।

किस विधि मिलूँ दयामय, तुमको मैं कुमति॥

ॐ जय जगदीश हरे।

दीनबन्धु दुखहर्ता, तुम ठाकुर मेरे।

स्वामी तुम ठाकुर मेरे।

अपने हाथ उठा‌ओ, द्वार पड़ा तेरे॥

ॐ जय जगदीश हरे।

विषय-विकार मिटा‌ओ, पाप हरो देवा।

स्वमी पाप हरो देवा।

श्रद्धा-भक्ति बढ़ा‌ओ, सन्तन की सेवा॥

ॐ जय जगदीश हरे।

श्री जगदीशजी की आरती, जो कोई नर गावे।

स्वामी जो कोई नर गावे।

कहत शिवानन्द स्वामी, सुख संपत्ति पावे॥

ॐ जय जगदीश हरे।

Om Jai Jagdish Hare Aarti PDF

Om Jai Jagdish Hare Aarti PDF Download Link

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Discover more from Govtempdiary

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading